Better Half – हमसफ़र – 1

हमसफ़र श्रृंखला के तहत दो कविताएं लिखी हैं। इनमें जीवनसाथी के होने का बोध है और उसके ना होने पर देर तक रहने वाली अगरबत्ती जैसी खुशबू भी। तुम वही हो जो मेरे ज़ेहन की अंगुली पकड़ के मुझे ख़्वाबों में ले जाती हो लम्हा दर लम्हा तुम्हारे ख्यालों के साथ पिघलता हूं मैं कंप्यूटर… read more

0
Reply

A Falling Bullet can kill a Person | उड़ती गोली का गणित

The weight and the shape of a falling object determine how dangerous it could be to a human. If you were to drop a coin weighing 3.5 grams from a height of two kilometres, it would accelerate to a maximum speed of 150km/h. air resistance would prevent it from travelling any faster and it would… read more

0
Reply

Better Half – हमसफ़र – 2

ये एक छोटी सी कविता है, जिसमें हमसफ़र आपकी यात्रा का साक्षी है। सुनना, सुन पाना और सुन लेना भी प्रेम ही है। किसी की बातों की किरचों को और यात्रा के छालों को, दिल की रूई में सोख लेना भी एक अग्नि परिक्रमा के समान है। शुक्रिया वो मुझे सहता रहा, बुरे वक़्त में… read more

0
Reply

ट्रंप तुम सभ्य तो हुए नहीं, धरती पर बसना भी तुम्हें नहीं आया एक बात पूछूँ — उत्तर दोगे ? प्रकृति को लूटना कहां से सीखा विषैला धुआं कहां से पाया अज्ञेय की कविता साँप का पर्यावरणीय संस्करण मैंने लिखा है, आज ट्रंप पर कटाक्ष करने के लिए, इस नुकीली कविता का इस्तेमाल करने की… read more

Climate Deal : पर्यावरण का सौदा

“Trump’s America pulled out of Paris Climate deal” – इस सूचना में एक चुभन है, एक कुटिल और पूंजीवादी देश की मुस्कान है, एक गैर ज़िम्मेदारी है और व्यापारिक लोभ है। इसके विरुद्ध तमाम देश ना सही.. परंतु शब्द तो खड़े हो ही सकते हैं। पुरानी साँसें बहुत जल्द मैली हो जाएंगी इतनी मैली कि… read more

1
Reply

Respiration : श्वास

‘Poetic परिभाषाएँ’ : ये काव्यात्मक परिभाषाओं की श्रृंखला है। वैसे तो परिभाषा किसी भी शब्द का सटीक अर्थ बताती है लेकिन अगर उसमें काव्य की कुछ बूँदें भी डाल दी जाएं, तो उसका दायरा बढ़ जाता है। उम्मीद है ये शैली आपको पसंद आएगी।  इस श्रृंखला में सबसे पहले श्वास ! तुम्हारी साँस से मेरी… read more

1
Reply

Interstellar Satire : ग्रहों के बीच बहती कटाक्ष की धूल

This is one of the my Poems from Deep Space, it has interstellar dust of mankind’s future. प्राण वायु के बिना क्या मेरे शब्द तुम तक पहुँचेंगे ? क्या वहाँ तेज़ तूफानों के बीच मोमबत्ती जलाकर.. उसकी लौ में तुम्हें देखना संभव होगा ? क्या उस लाल खुरदरी ज़मीन पर बच्चों के सपने ठहर पाएँगे… read more

0
Reply

E-commerce of a Monk : एक भिक्षु का ई-बाज़ार

Core Thought How Can a Business Mind Meditate ? How Can a Zen Mind do e-commerce ? For a moment these contradictions make you believe that the idea of meditation is so distant from this world. Tidal Waves of your money, power, glory, politics & success crash continuously to the rocks of mind.  But actually… read more

1
Reply

⏳Sand Waves of Time : रेत की स्लेट

Life always gives you plain sheet of paper, write something new ! वक़्त निकालते हैं रेत पर हसीन सा दिन गुलाबी सी शाम जोड़ते हैं लम्हों को नर्म अंगुलियों से लिखते धुआं हो जाता है वक़्त निकलता जाता है हाथ से फिर गुज़रते हुए वक़्त के एक सिरे पर सवार लहर जीने का साज़ो सामान… read more

2
Reply

Pen & Pistol : क़लम और बंदूक़ का रिश्ता पक्का हो गया

This one explores characteristics of Pen and Pistol and relationship between them in modern times. कुछ सवाल ख़ुद पर दाग़ने होंगे कुछ युद्ध ख़ुद से करने होंगे गिराने होंगे परमाणु बम अपने अंदर और करनी होंगी संधियां बार बार कुछ कविताएं बंदूक की नाल से लिखी जाएंगी और क़लम ? कलम से कुछ लोगों का… read more

0
Reply