A Kavi on iPad creates 'Nirvana of Infotainment'

Posts from the ‘Poems’ category

New Age Poetry

offline letters from home

घरेलू प्रेम पत्र 💌 Offline Letters from Home

डाक विभाग बर्फ़ की सिल्ली की तरह जम गया है, नेटवर्क ने हड़ताल कर दी है, वक़्त के इस Offline टुकड़े में कुछ पुराने बिखरे हुए पत्र मिले हैं। दुनिया से खुद को काटकर गृहस्थ जीवन जीना भी किसी काव्य से कम नहीं। ये वक़्त के कुछ ऐसे अंश हैं, जो आपको अपने से लगेंगे। 7 नये हैं और 5 पहले के लिखे हुए हैं, कुल मिलाकर 12 हुए

Friends and Poems

मेरे दोस्त, मेरा अंधेरा पी गये : 7 Dimensions of Friendship

मुठ्ठी खोलते ही दोस्ती की सल्तनत शुरू हो जाती है। दोस्ती में अदृश्य सिहरन है, उपासना है, रोशनी की लकीर है, किसी का बोझ उठाने वाली ताकत है, राज़ को रखने वाली तिजोरी है, और वो अंधेरा भी जिसमें सारी महत्वाकांक्षाएं, स्वार्थ और आत्मा पर चिपके कालिख के कण धुल जाते हैं…….

Sandpaper Faces 🎭 रेगमाल जैसे चेहरे

व्यवस्थापकों, पालनकर्ताओं और बदलाव लाने वाले लोगों के चेहरों को ध्यान से देखिए, आपको वो चेहरे समतल नहीं खुरदरे दिखाई देंगे, और इसके पीछे एक सरल और गहरी वजह दिखाई देती है।