A Kavi on iPad creates 'Nirvana of Infotainment'

Posts from the ‘Observatory’ category

Your Own Observatory of Life !

Mind Games of Ravana : मन में रावण पार्टी कर रहा है !

इस दौर में रावण देखने के लिए कहीं बाहर जाने की ज़रूरत नहीं है, रावण आपके आसपास है, हो सकता है आपके मन के अंदर भी कोई रावण, पार्टी कर रहा हो ! उसके अट्टहास को सुनिए.. वो कहेगा कि ‘पार्टी यूँ ही चालेगी’.. लेकिन आप उसके घमंड का समारोह जब चाहे बंद कर सकते हैं। रावण के सॉफ्टवेयर में त्रुटियां हैं और इन त्रुटियों को दूर करने के लिए सॉफ्टवेयर अपडेट की ज़रूरत है.. यानी राम और रावण के बीच सिर्फ एक सॉफ्टवेयर अपडेट का फर्क है !

Gandhi Ji… Smile OK Please: कैसे मुस्कुराएँगे गांधी जी ?

करेंसी नोट पर गांधी जी हंस रहे हैं.. क्योंकि सबसे ज़्यादा पैसा डिफेंस/हथियारों पर खर्च हो रहा है

भाषणों में गांधी जी की अहिंसा ट्रेंड करती है जबकि हुक्मरानों की नीतियां किसी न किसी हिंसा को जन्म देती हैं

अहिंसा के पुजारी की जयंती पर लगभग सारे टीवी डिबेट्स के नाम हिंसक हैं / हिंसा से परोक्ष रूप से जुड़े हैं….. read more

Windows of SidTree : खिड़कियाँ (दृश्य – 1)

नगर वधू ने पूछा – तुम्हारी क्या ख़ासियत है ?
और प्रश्न ध्वनि चल पड़ी.. उत्तर की प्रतिध्वनि से मिलने को
सिद्धार्थ ने संतुष्टि की मुस्कान और ओस भरी आँखों को उद्दीप्त करके
कहा…

Arrow-Target-Mahabharat

Mahabharat Diary : महाभारत के नन्हे-मुन्ने विश्लेषण (क्रमांक 1, 2, 3)

शीर्षक पढ़कर ये बात मन में आई होगी कि महाभारत के नन्हे मुन्ने विश्लेषण का अर्थ क्या है ? नन्हे =आकार में छोटे,  मुन्ने =बच्चे के भाव…

विष-अमृत : Poison Defeated !

ये Poison की पराजय का उद्घोष है संसार में विष घोलने वालों को मेरी तरफ से ढेर सारा अमृत, बचपन में हम विष अमृत बहुत खेलते…

Friends and Poems

मेरे दोस्त, मेरा अंधेरा पी गये : 7 Dimensions of Friendship

मुठ्ठी खोलते ही दोस्ती की सल्तनत शुरू हो जाती है। दोस्ती में अदृश्य सिहरन है, उपासना है, रोशनी की लकीर है, किसी का बोझ उठाने वाली ताकत है, राज़ को रखने वाली तिजोरी है, और वो अंधेरा भी जिसमें सारी महत्वाकांक्षाएं, स्वार्थ और आत्मा पर चिपके कालिख के कण धुल जाते हैं…….