चीन कम्यूनिस्ट पार्टी के 100 साल 🇨🇳 अलोकतांत्रिक शासन के एक्सपर्ट 🐍

बिना जनादेश 72 साल शासन चलाने वाली दुनिया की सबसे सफल अलोकतांत्रिक/तानाशाही सत्ता

CCP और सत्ता का मज़बूत जोड़ क्यों ?

1. निर्दयी नियंत्रण ➡️ तियनेनमन स्क्वैयर जैसे विरोध को कुचला, नरसंहार हुआ ➡️ लेकिन सत्ता को कोई अफसोस नहीं

2. विचारधारा के स्तर पर तेज़ी से बदलाव की शक्ति ➡️ माओ की मृत्यु के बाद पूंजीवाद को इंस्टॉल किया ➡️ चीन का आर्थिक अपग्रेड हुआ

3. बड़े पैमाने पर लोगों का जीवनस्तर बेहतर हुआ, विकास सिर्फ रसूखदारों की हवेलियों तक ही सीमित नहीं रहा ➡️ CCP को भय मिश्रित जनसमर्थन मिला

4. CCP के सदस्यों में से 44% किसान, चरवाहे, मछुआरे और रिटायर हो चुके लोग हैं ➡️ समाज में मज़बूत पकड़

क्या पाया ?

भुखमरी से अर्थव्यवस्था नंबर 2 तक का सफर

अमेरिका को चुनौती देने वाली सत्ता और अर्थव्यवस्था

पूरी दुनिया के लिए सस्ती मैन्यूफैक्चरिंग करने वाली फैक्ट्री है चीन

क्या आलोचना हुई ?

तानाशाही, विरोध की हर आवाज़ की ऑनलाइन निगरानी, और लगातार ऐसे लोगों को ठिकाने लगाकर राज करना

विस्तारवादी, ज़मीन हड़पने को तत्पर, हर बड़े मार्केट पर कब्ज़ा करने वाली सॉफ्ट पावर, मजबूर देशों को कर्ज़ देकर तोड़ने की रणनीति, विकास के नाम पर किसी देश में एंट्री करके वहां की संवेदनशील जगहों पर कब्ज़ा जमाना।

भविष्य की चिंता/चुनौतियां ?

CCP के अंदर ही अंदर शी जिनपिंग के विरोध के स्वर

शी जिनपिंग के बाद कौन ? इस सवाल का जवाब नहीं

पार्टी से जुड़े लोगों का भ्रष्टाचार में लिप्त होना

– 10 साल में CCP अधिकारियों पर भ्रष्टाचार के मामले 6 गुना बढ़े

– CCP ने पिछले 2 साल में 10 लाख अधिकारियों को भ्रष्टाचार की सज़ा दी

बूढ़ी होती आबादी

#NotesOnNews 📝 सिद्धार्थ की दूरबीन 🔭 http://www.SidTree.co 🌐

Comment