Colors : दुनिया के सादे कागज़ पर आपके रंग

Core Thought : When you Play with Colors, whole World becomes a blank paper.


रंगों से खेलना शुरू कीजिए
दुनिया सादा काग़ज़ बन जाएगी
टूटना तो हदों का अंजाम है
उलझने दिल से बाहर निकलीं
तो एक कलाकृति बन जाएगी

Sketch Dreams

This is My painting with an independent thought but it matches with this Poem, so felt like dissolving this into ‘Colors’

I wish billions of colors, entering in your Life on Colorful festival of Holi.
Happy Holi


© Siddharth Tripathi  *SidTree |  SidTree.co, 2017

3 Replies to “Colors : दुनिया के सादे कागज़ पर आपके रंग”

  1. रंग आपकी तूलिका से जो निकले तो सारा जहां ही रंगीन हो जाऐ।

  2. Raang ki taasir…aap ke mijaaz me u hi kaundhiti rahe happy holi

Comment