Rainy greens from Balcony

बलकनी से अब भी हरे पत्ते और फूल दिखते हैं, लगता है अब भी कुछ बिगड़ा नहीं, बहुत कुछ बाक़ी है जश्न मनाने को

© Siddharth Tripathi, Kavionipad.com, 2013

20130712-103032.jpg

Comment